imran

पाकिस्तान के एक वरिष्ठ नौकरशाह ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर देश की सरकार और अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार के बीच समानता की बात कही है. इस पर प्रधानमंत्री इमरान खान को मिर्ची लग गई है. इमरान खान ने वरिष्ठ नौकरशाह के खिलाफ जांच का आदेश दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स में इसकी जानकारी दी गई है.

डॉन अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार को इस्टैब्लिशमेंट डिवीजन द्वारा जारी आरोपों के एक बयान के अनुसार, कैबिनेट डिवीजन के एक वरिष्ठ संयुक्त सचिव हम्माद शमीमी के खिलाफ जांच के आदेश दिए गए हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, हम्माद शमीमी ने एक सोशल मीडिया पेज/प्लेटफॉर्म पर एक टिप्पणी पोस्ट की थी, जो सिविल सेवकों (दक्षता और अनुशासन) 2020 नियम के तहत कदाचार के समान थी.

इसके बाद इस्टैब्लिशमेंट डिवीजन की नोटिफिकेशन के जरिए उर्दू में शमीमी के कथित पोस्ट को फिर से जारी किया गया. इसमें उन्होंने लिखा था, ‘पीटीआई (इमरान खान की पार्टी) और तालिबान के बीच एक समानता यह है कि दोनों सत्ता संभालने के बाद ही यह पता लगा रहे हैं कि सरकार कैसे चलाई जाए. और उन दोनों के लिए आशा का केंद्र अबपारा है.’ वरिष्ठ नौकरशाह के इस बयान के बाद खलबली मच गई.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.