ग्लोलब आइकोन प्रियंका चोपड़ा के पति और अमेरिकन सिंगर निक जोनस ने खुलासा किया है कि वो 13 साल की उम्र में टाइप 1 की डायबिटीज से पीड़ित थे. उन्होंने एक सोशल मीडिया पोस्ट में इसके सिम्पटम्स और दूसरे कारणों के बारे में बताया हैं और साथ ही बताया है कि आखिर किस तरह से उन्होंने इस लाइलाज बिमारी को मात दी.

निक जोनस ने नेशनल डायबिटीज मंथ के मौके पर एक बहुत ही इमोशनल कर देने वाला पोस्ट इंस्टाग्राम पर शेयर किया है. उन्होंने लिखा कि उन्हें 16 साल पहले पता चला था कि उनको डायबिटीज है. तब वो सिर्फ 13 साल के थे. वो पिछले 16 साल से डायबिटीक है और इससे बहुत अच्छे से निजात पा रहे हैं. वो लिखते है, ”आज मेरे साथ इसे जुड़े 16 साल हो गए और ये मेरे निदान की 16वीं सालगिरह है. मैं 13 साल का था और अपने भाइयों के साथ खेल रहा था और मुझे पता था मेरे पेट में कुछ ठीक नहीं है. इसलिए मैं अपने माता-पिता के पास गया और उन्हें बताया कि मुझे डॉक्टर को दिखाने की जरुरत है. मेरे सारे लक्षण जानने के बाद चाइल्ड स्पेशलिस्ट ने बताया कि मुझे टाइप 1 डायबिटीज है. तब मुझे लगा कि मैं बर्बाद हो गया. मैं बहुत डरा हुआ था. इसका मतलब ये था कि दुनिया का दौरा करने और हमारे संगीत को चलाने का मेरा सपना खत्म हो गया था? ”

29 साल के सिंगर निक जोनस आगे लिखते है कि ”पर मैं कमिटेड था कि मुझे अपने आपको स्लो नहीं करना है. मेरे पास एक समर्थक था, जिसे मुझ पर भरोसा था, जिसने मुझे कभी कमजोर नहीं होने दिया. इंस्टाग्राम की उनकी इस पोस्ट पर उनकी पत्नि प्रियंका चोपड़ा और पापा केविन जोनस दोनों से प्रतिक्रिया दी हैं. केविन ने कमेंट सेक्शन में लिखा- ”हम उस दिन को कभी नहीं भूलेंगे. आप हम सभी को इंस्पायर करते हैं. लव यू”. वही प्रियंका चोपड़ा ने कमेंट में उनके लिए हार्ट आई और क्लैपिंग का आइकन पोस्ट किया है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.