भारत को जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर टोक्यो पैरालिंपिक में भी पदकों की बौछार की गई है. आज भारतीय एथलीटों ने 4 पदक जीते हैं. पैरालिंपिक में भारत अब तक 7 मेडल जीत चुका है,जिसमें 1, गोल्ड, 4 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज जीते हैं.

भारत की अवनि लखेरा ने टोक्यो पैरालिंपिक में महिलाओं की 10 मीटर एआर राइफल फाइनल में स्वर्ण पदक जीता है. उसने फाइनल में 249.6 अंक बनाए, जो दिसंबर 2018 में यूक्रेन की इरिना शतनिक द्वारा बनाए गए विश्व रिकॉर्ड के बराबर है. फाइनल में, अवनि को एक चीनी शूटर द्वारा साइड में कांटा दिया गया था, लेकिन फिर उसने उसे अपने ही अचूक लक्ष्य से हरा दिया.

पैरालिंपिक में पदकों की बारिश

इस बीच, भारत के योगेश कथूनिया ने F56 डिस्कस थ्रो इवेंट में रजत पदक जीता है. सोमवार को, अपने छठे और अंतिम प्रयास (44.38 मीटर, श्रृंखला सर्वश्रेष्ठ) में उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ थ्रो फेंका और पदक पर कब्जा कर लिया. इसके अलावा भाला फेंक में देवेंद्र जजारिया ने रजत पदक और सुंदर सिंह ने कांस्य पदक जीता है.

भारत की अवनि लखेरा ने रचा इतिहास

जयपुर की अवनि ने फाइनल में 249.6 स्कोर कर वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की और पहला स्थान हासिल किया. उन्होंने चीन के झांग कुइपिंग (248.9 अंक) को पीछे छोड़ दिया. यूक्रेन की इरियाना शतनिक (227.5) ने कांस्य पदक जीता.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.