ओडिशा के पुरी में स्थित जगन्नाथ मंदिर का द्वार आज से श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया गया है. मंदिर में प्रवेश को लेकर श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन ने कहा है कि श्रद्धालुओं को कोरोना गाइडलाइन्स और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा. मंदिर प्रशानस की ओर से जारी बयान के मुताबिक 23 अगस्त से सभी भक्तों को दर्शन के लिए प्रवेश की अनुमति मिलेगी.

बता दें कि कोरोना के प्रतिबंधों के कारण मंदिर पिछले तीन महीने से ज्यादा समय से बंद कर दी गई थी. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मंदिर प्रशासन ने कहा है कि पुरी नगर पालिका क्षेत्र में रहने वाले लोगों को ही 20 अगस्त तक दर्शन के लिए अनुमति मिलेगी.

मंदिर में दर्शन के लिए समय भी तय कर दिया गया है. दर्शन सुबह 7 बजे से लेकर शाम 7 बजे तक होगा. वहीं एक अधिकारी ने कहा कि आम जनता को 23 अगस्त से प्रवेश की अनुमति होगी.

इससे पहले 11 अगस्त को मंदिर प्रशासन की ओर से जारी अधिसूचना में बताया गया था कि मंदिर को खोलने को लेकर मुख्य प्रशासक डॉ कृष्ण कुमार की अध्यक्षता में एक बैठक हुई थी. बैठक में मंदिर खोलने को लेकर विस्तृत चर्चा हुई थी. यह चर्चा कोरोना समेत कई अन्य मुद्दों को ध्यान में रखकर हुई थी.

बता दें कि इस मंदिर का पट कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच इसी साल 24 अप्रैल को बंद कर दिया गया था. मंदिर को फिर से खोलने के नए गाइडलाइन्स के मुताबिक मंदिर सभी वीकेंड और प्रमुख त्योहारों के मौके पर पट बंद रहेगा.

मंदिर प्रशासन की ओर से यह भी फैसला लिया गया है कि किसी भी त्योहारों में भीड़ की संख्या और कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए मंदिर को प्रमुख उत्सव के दौरान बंद रखा जाएगा. वहीं राज्य के बाहर से दर्शन करने पहुंचे भक्तों के लिए 96 घंटे के भीतर आरटी-पीसीआर टेस्ट या कोविड-वैक्सीनेसन का सर्टिफिकेट दिखाना होगा.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.