rafale

बोर्डर के आसपास चीन की गतिविधि लगातार बढ़ रही है. चीन को मुंह तोड जवाब देने के लिए भारत ने बड़ा कदम उठाया है, भारतीय वायुसेना (IFA) ने बुधवार को पूर्वी वायु कमान (ईएसी) के तहत हासीमारा एयरबेस (Hasimara Airbase) पर राफेल (Rafale) को तैनात किया है. फाइटर जेट राफेल को 101 स्क्वाड्रन में शामिल किया गया है. पश्चिम बंगाल के हासीमारा एयरबेस के पास पहले मिग 27 स्क्वाड्रन था, जिसे अब सेवामुक्त कर दिया गया है. हासीमारा एयरबेस भूटान से निकटता के कारण भारतीय वायु सेना के संचालन के लिए एक रणनीतिक आधार है.

Air Chief Marshal भी रहे मौजूद


एक्सपर्ट्स का मानना है कि एयरफोर्स की ईस्टर्न कमांड के 101 स्क्वाड्रन में राफेल विमानों (Rafale Jets) को शामिल करने से देश की पूर्वी सीमा की पुख्ता निगरानी हो सकेगी और यहां से चीन पर भी पैनी नजर रखी जा सकेगी.

इस मौके पर वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर.के.एस. भदौरिया (Air Chief Marshal RKS Bhadauria) ने कहा कि पूर्वी क्षेत्र में वायुसेना की क्षमता को मजबूत करने के महत्व को ध्यान में रखते हुए, हासीमारा में राफेल को शामिल करने का फैसला बेहद सावधानीपूर्वक लिया गया है. देश की पूर्वी सीमा पर एयरफोर्स की ताकत को बढ़ाने में राफेल अहम भूमिका निभाएगा.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.