Lord Jagannath's Rath Yatra

घोषणा की गई है कि इस साल पुरी रथयात्रा का आयोजन किया जाएगा. कोरोना नियंत्रण का पालन किया जाएगा. यात्रा में शामिल नहीं हो सकते श्रद्धालु केवल पुजारी ही भाग लेंगे. ओडिशा सरकार ने कहा है कि वह पिछले साल शीर्ष अदालत द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करेगी.

कोरोना वायरस गाइडलाइन का पूरी तरह पालन किया जाएगा. पिछले साल भी कोरोना के संक्रमण के चलते भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा (जगन्नाथ रथ यात्रा 2021) बिना श्रद्धालुओं के आयोजित की गई थी.

Lord Jagannath's Rath Yatra will go out without devotees in Puri, Odisha

विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) प्रदीप जेना ने आज कहा कि रथ यात्रा उत्सव का आयोजन उच्चतम न्यायालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार किया जाएगा. जिन सेवकों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव है और जिन्होंने टीके की दोनों खुराक ले ली है, उन्हें उत्सव में भाग लेने की अनुमति दी जाएगा. केवल चयनित सेवकों और पुलिस अधिकारियों को ही रथ खींचने की अनुमति होगी.

प्रत्येक रथ को 500 से अधिक व्यक्ति नहीं खींचेंगे, उन सभी को एक नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट करना आवश्यक होगा.रथयात्रा के दौरान पूरे पुरी में कर्फ्यू रहेगा.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.