corona vaccination in india

देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तर हररोज बेकाबू होती जा रही है, हर दिन हजारों लोगों की जान कोरोना की वजह से जान जा रही है, कई राज्यों में टीकाकरण के तीसरे चरण को लेकर सवाल उठ रहे है. कइ राज्यो का कहना है की 1 मई से 18-44 साल के लोगों का टीकाकरण नहीं हो सकता क्योंकि राज्यों के पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन नहीं है.

महाराष्ट्र का हाल

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि राज्य को कोरोना वायरस की रोजिंदा 25-30 लाख खुराक नहीं मिल जाती तब तक 18-44 साल उम्र के लोगों के लिए वैक्सीनेशन शरु नहीं हो सकता.महाराष्ट्र में टीकों की कमी की वजह से टीकाकरण अभियान रोका जा चुका है जो 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए चल रहा है.

पंजाब, गुजरात में टीकाकरण को लेकर सवाल

पंजाब, गुजरात में टीकाकरण को लेकर सवाल उठ रहे है. दोनों राज्यों की सरकारों ने कहा की उनके पास पर्याप्त खुराकें नहीं है.पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा, ‘हमें टीके की पर्याप्त खुराकें नहीं मिल रही हैं. इसलिए हमें समस्या का सामना करना पड़ रहा है. टीकाकरण के लिए हमारे पास पर्याप्त संख्या में कर्मी और व्यवस्था है.’

गुजरात सरकार का कहना है की राज्य के पास पर्याप्त मात्र में टीका है और तीसरे चरण का टीकाकरण अभियान शरु करेगे, गुजरात में 18 से 45 साल तक के लोगों के लिए वैक्सीनेशन रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस शरु हो गई है.

दिल्ली के पास नहीं हे वैक्सीन

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि टीकाकरण के लिए उनके पास टीके नहीं है. वैक्सीनेशन की खरीदी के लिए उत्पादकों को ऑर्डर दे दिए गए है. राज्य सरकार ने कहा की उनकी और से टीकाकरण की तैयारी पूर्ण हो चुकी है.

तो वहीं, बिहार सरकार, जम्मू, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का हाल है. इन प्रदेशों में टीकाकरण अभियान के नए चरण के शरु होने की संभावना नहीं है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.