Chandro Tomar

चंद्रो तोमर, जिन्हें शूटर दादी के नाम से जाना जाता है, कोरोना संक्रमण से उनका निधन हो गया है. उन्हें पिछले कुछ दिनों से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके बाद उन्हें मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 89 वर्षीय चंद्रो कोरोना से संक्रमित होने की खबर परिवार ने 3 दिन पहले अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट की थ. सांड की आंख फिल्म में अभिनेत्री तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर ने दादी की कहानी दर्शाइ है. दोनों ने सोशल मीडिया पर श्रद्धांजलि अर्पित की.

दादी का संघर्ष फिल्म में दर्शाया गया है

अभिनेत्री भूमि पेडनेतर ने फिल्म में चंद्रो तोमर की भूमिका अदा कि है. यूपी के बागपत जिले के जोहड़ी गांव के रहने वाले चंद्रो तोमर के 6 बच्चे और पोते हैं. वह अपनी एक पोती शैफाली को डो. राजपाल की शूटिंग अकादमी में ले गइ. जहां वह तीन दिनों तक अपनी पोती को बंदूक से निशाना बनाने की कोशिश की. यह देखकर चंद्रो ने अपने हाथ में बंदूक लोड की और निशाना लगाया.

सटीक निशान देखकर अकादमी के प्रशिक्षक ने उन्हें शूटिंग शुरू करने के लिए कहा. चंद्रो, दुनिया के सबसे उम्रदराज निशानेबाज थे. तापसी पन्नू ने फिल्म में चंद्रा के नंद प्रकाश की भूमिका निभाई है. प्रकाशी चंद्रमा को देखकर उन्होंने शूटिंग शुरू कर दी थी.

उन्होंने 25 राष्ट्रीय शूटिंग चैंपियनशिप में भाग लिया और सभी टूर्नामेंट जीते. शुरुआती दिनों में रात के समय को प्राथमिकता दी, दिन भर काम करने और रात को सो जाने के बाद, वे गुड़ से भरे पानी ले जाते थे और घंटों बंदूक पकड़े रहते थे.और इस तरह कई संघर्ष से जीवन बिता कर उन्होंने अपने नाम अनोखी सिद्धी उपलब्ध की थी. शूटर दादी कई शूटर्स की प्रेरणा थी.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.