harshvardhan

देश में कोरोना की लगर जानलेवा साबित हो रही है. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना की वजह से 1 हजार से ज्यादा दर्दीयों की मौत हो चुकी है. कोरोना के बढते मामलों के बीच एसी खबर सामने आइ है के सब चौंक गए,

देश में चल रहे वैक्सीन सेंटर्स वैक्सीन की कमी के चलते सूमसाम पडे है. कई राज्य सरकारों ने आरोप लगाया कि उनको वैक्सीन प्रदान करने में केंद्र सरकार भेदभाव कर रही है. राजस्थान, छत्तीसगढ, महाराष्ट्र समेत कई राज्यो ने आरोप लगाया कि उनके राज्यों में वैक्सीन की किल्लत हो गई है. जिसपर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने सफाई दी है.

क्या कहा देश के स्वास्थ्य मंत्री ने

  • देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है और भारत सरकार ने हर राज्य को वैक्सीन दी है.
  • यह राज्य का काम है कि वे सावधानीपूर्वक तरीके से निश्चित समय-सीमा के भीतर वैक्सीनेशन सेंटर्स पर वैक्सीन की डोज उपलब्ध करवाया जाए.
  • रेमडेसिविर की किल्लत इसलिए हुई क्योंकि कोविड-19 के मामलों में कमी के चलते दवा का प्रोडक्शन कम कर दिया गया था.
  • ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया रेमडेसिविर के ब्लैक मार्केटिंग की शिकायत पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.
  • दवाओं की जान बूझकर कमी पैदा कर करे हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होना चाहिए.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.