King Jong's confession

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग फिर से एक बार चर्चाओं में है, और इस बार चर्चा का कारण है किम जोंग का कबूल नामा. किम जोंग ने यह पहली बार कबूला है कि उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था सबसे बुरे दौर में चल रही है.

हाल ही में किंग जोंग ने कार्यकर्ता सम्मेलन में संबोधन किया, किम ने कहा कि उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था बुरे वक्त से गुजर रही है. लोगों के जीवन को बेहतर बनाना होगा.

King Jong's confession, North Korea is going through the worst phase

न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट में दर्शाया गया है कि किम जोंग के शासन को 10 साल होने जा रहे हैं, और उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था अमेरिकी प्रतिबंधों, कोरोना और लोक डाउन के चलते डामाडोल हो गई है.

यूपी,एमपी और गुजरात में ज्यादा वैक्सीन दीं जाती है: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री

उत्तर कोरिया पर लगाए गए संयुक्त राष्ट्र द्वारा परमाणु प्रतिबंध की निगरानी करने वाले एक्सपर्ट्स का कहना है कि किम जोंग उन सरकार ने ऐसी सामग्री का निर्माण किया है कि जिससे परमाणु बनाए जा सके.

महाराष्ट्र में 9वी और 11वी कक्षा के विद्यार्थी बिना परीक्षा के होंगें पास, सरकार ने किया एलान

अहेवालो की माने तो कोरोना और लोक डाउन ने उत्तर कोरिया की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर डाला है. लेकिन सच बात तो यह भी है कि किम जोंग ने देश के सही हालात दुनिया तक नहीं आने दिए.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.