NV RAMNA

भारत के 48वें मुख्य न्यायाधीश के तौर पर जस्टिस नथालापति वेंकट रमना शपथ लेंगे. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मंजूरी मिलने के बाद अब 24 अप्रैल को जस्टिस रमना शपथ लेंगे.

कौन हैं एन वी रमना

नथालपति वेंकट रमण का जन्म 27 अगस्त 1957 को आंध्र प्रदेश के कृष्ण जिले के पोन्नवरम गाँव में एक किसान परिवार में हुआ था. पहले, वह दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश और आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के पद पर भी रह चूके थे. उन्होंने आंध्र प्रदेश न्यायिक अकादमी के अध्यक्ष के रूप में भी कमान संभाली है, वह 26 अगस्त 2022 को सेवानिवृत्त होने वाले है.

जस्टिस एन.वी.रमना 10 फरवरी, 1983 को वकील बने थे. जस्टिस एन वी रमना ने आंध्र प्रदेश, मध्य और आंध्र प्रदेश प्रशासनिक न्यायाधिकरणों और भारत के सर्वोच्च न्यायालय में सिविल, आपराधिक, संवैधानिक, श्रम, सेवा और चुनाव मामलों में उच्च न्यायालय जिम्मेदारी संभाली है. उन्हें संवैधानिक, आपराधिक, सेवा और अंतर-राज्यीय नदी कानूनों में एक्सपर्टाइज हांसल की है.

जस्टिस एन वी रमना ने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में हिस्सा लिया. भारत और विदेशों में आयोजित और कानूनी महत्व के विभिन्न विषयों पर अपना तर्क रख चूके है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.