ISHU CHRIST

आज गुड फ्राइडे का पर्व है.इस दिन को पुण्य शुक्रवार भी कहा जाता है. आज का दिन प्रभु ईसा मसीह की याद में मनाया जाता है.इस दिन को ‘शोक दिवस’ के रूप में मनाया जाता है.गुड फ्राइडे ईसाई समुदाय के लोगों के लिए काफी अहमियत रखता है.

‘शोक दिवस’ के रूप में मनाया जाता है दिन

बाइबिल के अनुसार, प्रभु ईसा मसीह ने शुक्रवार के दिन ही अपने जीवन का बलिदान दिया था. रोम के राजा के आदेश पर कलवारी में शुक्रवार को यीशु मसीह को सूली पर लटका दिया गया था.अंधविश्वास और झूठ फैलाने वाले धर्मगुरुओं को यीशू की बढ़ती लोकप्रियता से परेशानी होनी लगी थी.

यीशू के विचार लोगों को नई उर्जा दे रही थी. इन सब को देखकर कुछ स्वार्थी लोगों ने राजा को भड़काना शुरू कर दिया. जिसके बाद प्रभु यीशु को सूली पर चढाने आदेश दिया गया. प्रभु यीशु ने अपना संपूर्ण जीवन लोगों के कल्याण के लिए समर्पित कर दिया था.

गुड फ्राइडे के तीसरे दिन यानी रविवार के दिन प्रभु यीशु फिर से जीवित हो गए थे और 40 दिन तक लोगों के बीच जाकर उपदेश देते रहे. प्रभु यीशु के दोबारा जीवित होने की इस पर्व को ईस्टर संडे के रूप में मनाया जाता है.

पीएम मोदी ने किया ट्वीट

पीएम मोदी ने ट्वीट कर ईसा मसीह को याद किया. कहा, ”गुड फ्राइडे हमें ईसा मसीह के संघर्षों और बलिदानों की याद दिलाता है. दया का एक आदर्श अवतार जो जरूरतमंदों की सेवा करने और बीमारों को मदद करने के लिए समर्पित थे.” गुड फ्राइडे के मौके पर चर्च में विशेष प्रार्थाना सभाएं आयोजित की गई है. यह पर्व पूरी दुनिया भर में मनाई जा रही है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.