कोरोना वैक्सीन बना रही फार्मा कंपनी फाइजर ने अमेरिका में दो हजार से ज्यादा बच्चों पर ट्रायल्स किए, और उसके बाद कंपनी ने दावा किया है की उनकी वैक्सीन 12 से 15 साल के बच्चों पर सो प्रतिशत कारगर है, फाइजर ने कहा की वैक्सीन का दूसरा डोज देने बाद उनमें बेहतर एंटीबॉडी रिस्पोन्स देखने मिला,अब फाइजर ने यूएस के ड्रग ऐडमिनिस्ट्रेशन को सोंपने के लिए विचार कर रही है.

अभी तक ज्यादातर वैक्सीन 16 साल या उससे ज्यादा उम्र के लोगों को दी जा रही थीं. 12-15 साल के 2,260 वॉलंटिअर्स पर किए गए टेस्ट के डेटा में पाया गया कि पूरे वैक्सिनेशन के बाद कोरोना इन्फेक्शन का कोई केस नहीं पाया गया.

फाइजर के अलावा Moderna भी 12-17 साल के बच्चों पर वैक्सीन टेस्ट कर रही है और जल्द ही उसके नतीजे भी सामने आनी की उम्मीद जताई है. खास बात यह है कि FDA ने दोनों कंपनियों के अब तक के नतीजों पर भरोसा जताते हुए 11 साल तक के बच्चों पर भी वैक्सीन टेस्ट करने की इजाजत दे दी है. पिछले महीने AstraZeneca ने 6 से 17 साल तक के बच्चों पर ब्रिटेन में स्टडी शुरू की है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.