hot summer

मार्च शुरू होते ही मौसम विभाग ने गर्मी का अनुमान जारी किया. मौसम विभाग के अनुसार मार्च से मई के दौरान भारत के उत्तर, उत्तर पूर्व, पूर्व और पश्चिम के कुछ हिस्सों में इस साल सामान्य से ज्यादा गर्मी पड़ सकती है.दक्षिण और मध्य भारत में सामान्य से कम गर्मी पड़ने का अनुमान जताया गया.

24 घंटों में आए 18 हजार नए कोरोना केस, अब तक इतने करोड़ लोगों को लगी वैक्सीन

 मार्च का पहले हफ्तें में ही देश के कुछ इलाकों में पारा 40 तक पहुंच गया है, वहीं हिमाचल और उसके आसपास के इलाकों में मौसम ने पलटी मारी है और यहां अगले कुछ दिन हल्की बारिश के आसार जताए जा रहे हैं.

दिल्ली और पुणे IMD समेत ज्यादातर मौसम विज्ञान केंद्रों ने उत्तर, उत्तर पूर्व और उत्तर पश्चिम भारत में इस साल मार्च, अप्रैल और मई के महीने में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने का अनुमान है, उत्तर के अधिकांश राज्यों में अगले तीन महीने न्यूनतम तापमान भी सामान्य से अधिक रहने के आसार हैं.

लगातार 10वें दिन नहीं बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, लोगों को आंशिक राहत

हालांकि, दक्षिण और मध्य भारत के अधिकांश राज्यों में रात का तापमान सामान्य रहेगा. इन राज्यों में अगले तीन महीने न्यूनतम तापमान सामान्य या सामान्य से कम रहने के आसार हैं.

IMD ने फरवरी के तापमान को देखते हुए अगले तीन महीने के मौसम का अनुमान जारी किया है. हालांकि, अप्रैल की शुरुआत में IMD इन तीन महीनों के मौसम के अनुमान को एक बार फिर से अपडेट करेगा.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.