Petrol and diesel

पेट्रोल और डीजल की किंमतो मे राहत के कोई आसार नहीं दिख रहे है,सामान्य जनता पर उसका बोज नहीं कम होने वाल.हम आपकों बताते है की कच्चे तेल की कीमतों में लगातार क्यो इजाफा रहा है.

  • इंधण की कीमतों में यह बदलाव भारत से करीब साढ़े तीन हजार किलोमीटर दूर मची हलचल के कारण है.

  • सऊदी अरब की अगुवाई वाली सेना ने वीरें यमन की राजधानी सना में हमले किए हैं. रविवार को ईरान समर्थित हूती विद्रोहियों पर सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमले का आरोप है, जिसके जवाब में सऊदी अरब ने भी कार्रवाई की. इस आग की चिंगारी ने तेल के दाम को सुलगा दिया है.
  • कच्चे तेल की कीमत बढ़कर 70 डॉलर प्रति बैरल के पार हो गई है जो पिछले बीस महीने में सबसे ज्यादा है. चार दिन में कच्चे तेल की कीमत में लगभग 6 डॉलर प्रति बैरल की बढ़ोतरी हो चुकी है.
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने कारण देश में पेट्रोल-डीजल और महंगा होकर सौ के पार जा सकता है.
  • सऊदी अरब तेल उत्पादन में कमी नहीं आने का दावा कर रहा है लेकिन तनाव बढ़ने से कच्चा तेल महंगा हुआ है और देश में भी पेट्रोल-डीजल महंगा हो सकता है.

 

 

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.