ATS

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर संदिग्ध कार मिलने के केस में बहुत बड़ा मोड़ आ गया है. पुलिस को कलवा क्रीक पर एक शव मिला है. यह उस शख्स का है, जिसके पास एंटीलिया के बाहर संदिग्ध हालात में मिली स्कॉर्पियो थी. अधिकारियों ने बताया कि मरने वाले का नाम मनसुख हिरेन है, वह ठाणे के व्यापारी थे और क्लासिक मोटर्स की फ्रेंचाइजी चलाते थे. ठाणे के DCP ने बताया कि उन्होंने कलवा ब्रिज से कूदकर खुदकुशी की है.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने साफ की स्थिति

पहले मनसुख को स्कॉर्पियो का मालिक बताया जा रहा था. बाद में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने स्थिति साफ की. उन्होंने विधानसभा में बताया कि कार के मालिक का नाम सैम है, उन्होंने इसके इंटीरियर के मेंटेनेंस के लिए मनसुख हिरेन को दिया था. सैम ने इसके लिए पेमेंट नहीं किया तो हिरेन ने कार अपने पास रख ली थी.

एंटीलिया केस: जिसके पास स्कोर्पियो थी,उस व्यापारी का मिला शव. महाराष्ट्र सरकार ने एटीएस को सौंपी तपास

शुक्रवार को ठाणे में नदी के तट पर शव मिला. पुलिस ने यह जानकारी दी. ठाणे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लगभग 45 साल का मनसुख गुरुवार को रात को लापता हो गया था. मुंब्रा रेती बुंदर रोड से लगी एक नदी के तट पर उसका शव मिला है.

मनसुख को पहले से जानते थे ये पुलिस अफसर

देवेंद्र फड़नवीस के सवाल उठाने पर पुलिस अफसर सचिन वझे ने कहा कि मैं मनसुख हिरेन को जानता था. कई बार उनसे मिला था. मनसुख ने ठाणे और मुंबई पुलिस कमिश्नर के पास शिकायत दर्ज कराई थी कि कुछ पुलिस अफसर और जर्नलिस्ट उन्हें परेशान कर रहे हैं. मैं उनसे कार चोरी होने के बाद या पहले नहीं मिला.

मुंबई पुलिस ही करेंगी जांच

गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि मनसुख की बॉडी पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं. इसलिए इस केस को NIA को नहीं सौंपा जाएगा. मुंबई पुलिस सक्षम है और हमें उसकी क्षमता पर विश्वास करना चाहिए.

क्या था मामला

गुजरात के केवड़िया में कम्बाइंड कमांडर्स कॉन्फ्रेंस को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया संबोधित, देश की सुरक्षा को लेकर कही ये बात

मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया से करीब 200 मीटर दूर एक संदिग्ध SUV से जिलेटिन की 20 छड़ें मिलीं थीं. SUV पर फर्जी नंबर प्लेट लगी थी.CCTV फुटेज की जांच में सामने आया कि एंटीलिया के बाहर कार 24 फरवरी की रात करीब 1 बजे पार्क की गई थी. इससे पहले ये कार 12:30 बजे रात को हाजी अली जंक्शन पहुंची थी और यहां करीब 10 मिनट तक खड़ी रही.कार मुंबई के विक्रोली इलाके से चुराई गई थी. इसका चेसिस नंबर बिगाड़ दिया गया है, लेकिन पुलिस ने कार के असली मालिक की पहचान कर ली थी.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *