महाराष्ट्र में बीते दिनों कोरोना संक्रमण के मामलों में अचानक तेजी आने से पड़ोसी राज्यों में हड़कंप मच गया है. इसे लेकर कर्नाटक सरकार काफी सतर्क हो गई है. जिसके मद्देनजर महाराष्ट्र से कर्नाटक में आ रहे यात्रियों के लिए कोरोना वायरस की जांच का आरटी-पीसीआर कोविड-19 नेगेटिव सर्टिफिकेट लाने पर ही राज्य में एंट्री दी जा रही है.

कोरोना को लेकर सतर्क हुआ कर्नाटक

दरअसल कर्नाटक सरकार ने महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के मामलों में हालिया वृद्धि के मद्देनजर निर्देश जारी किए हैं. इसमें कहा गया है कि महाराष्ट्र से विमान, बस, ट्रेन या निजी वाहन से राज्य में आने वाले लोगों के लिए आरटी-पीसीआर कोविड-19 नेगेटिव सर्टिफिकेट लेकर आना अनिवार्य कर दिया है और यह सर्टिफिकेट 72 घंटे से पुराना नहीं होना चाहिए.

महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों को लाना होगा नेगेटिव रिपोर्ट

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव जावेद अख्तर की ओर से जारी परिपत्र में बताया गया कि इस रिपोर्ट की पुष्टि एयरलाइन कर्मी यात्रियों के वाहन में सवार होने के दौरान करेंगे. परिपत्र में कहा गया कि महाराष्ट्र से आने वाले और यहां के होटलों, रिजॉर्ट समेत अन्य स्थानों पर रुकने वाले लोगों के लिए आरटी-पीसीआर जांच में नेगेटिव रिपोर्ट का सर्टिफिकेट पेश करना अनिवार्य होगा और यह सर्टिफिकेट 72 घंटे से पुराना नहीं होना चाहिए.

अमेरिका, फ्रांस और यूके में भी हालत खराब

एक्टिव केस के मामले में अमेरिका पहले नंबर पर है. यहां अभी 92 लाख से ज्यादा मरीजों का इलाज चल रहा है. फ्रांस में 32 लाख और यूके में 16 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं. इसके अलावा इस सूची में ब्राजील, बेल्जियम, स्पेन, इटली, रूस, मैक्सिको, पोलैंड, आयरलैंड, इंडोनेशिया, अर्जेंटिना और भारत भी शामिल हैं.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.