PM Modi

राज्यसभा से आज कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद की विदाई हो गई है. सदन में उनके विदाई भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जमकर उनकी तारीफ की. इस दौरान वह भावुक भी हो गए. इसके बाद जब सदन में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (RPI) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले के बोलने की बारी आई तो उन्होंने गुलाम नबी के सम्मान में कविता पढ़ी.

रामदास आठवले की कविता-

राज्यसभा छोड़कर जा रहे गुलाम नबी

राज्यसभा छोड़कर जा रहे गुलाम नबी…

हम मिलते रहेंगे आपको कभी कभी

आपका नाम है गुलाम, इसलिए मैं करता हूं आपको सलाम

आपका नाम है गुलाम, लेकिन आप हमेशा रहे आजाद

आप हम सभी को रहेंगे याद

15 अगस्त को देश हुआ आजाद, लेकिन राज्यसभा से आप आज हो रहे आजाद

आप हमेशा रहो आजाद, हम रहेंगे आपके साथ… ये अंदर की है बात

मोदी जी जम्मू-कश्मीर का मजबूत करेंगे हाथ और आपका देते रहेंगे साथ…

पीएम मोदी ने रो रोकर गढ़े तारीफ में कसीदें

इससे पहले सदन में जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की घटना का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने बताया, ”वह जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री थे और मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था. हम दोनों की बहुत गहरी निकटता थी. एक बार गुजरात के यात्री जम्मू-कश्मीर घूमने गए और आतंकियों ने उनपर हमला कर दिया. करीब आठ लोग मारे गए. सबसे पहले गुलाम नबी जी ने मुझे फोन किया.” इतना कहते ही पीएम मोदी भावुक हो गए. उनकी आंखों से आंसू नहीं रुक रहे थे. संसद एक दम खामोश हो गई और वह सुबकियां ले रहे थे. फिर पीएम मोदी ने पानी पिया और अपने आप को संभाला. साथ ही उन्होंने सदन से माफी भी मांगी.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.