rajiv kapoor

कपूर परिवार की दुख की घड़ी में अभिनेता रणबीर कपूर अपने परिवार का दुख बांटने में सबसे आगे नजर आए.

अपने चाचा और अभिनेता राजीव कपूर की मौत के बाद उनके चेम्बूर स्थित घर में पहुंचनेवाले परिवार के सदस्यों में रणबीर कपूर सबसे पहले शख्स थे जो अपनी मां नीतू सिंह के साथ अंतिम दर्शन करने के लिए वहां पहुंचे थे.

शाम तकरीबन 6.45 बजे राजीव कपूर के शव को अंतिम संस्कार के लिए ‘देवनार कॉटेज’ से चेम्बूर स्थित शवदाह गृह लाया गया. इस मौके पर रणबीर कपूर ने एम्बुलेंस से लाये गये अपने चाचा राजीव कपूर के शव को कंधा दिया और उन्हें शवदाह गृह के अंदर तक पहुंचाया. रणबीर के परिवार के दो और सदस्यों – आदर जैन और अरमान जैन ने भी अपने चाचा को कंधा दिया.

58 वर्षीय राजीव कपूर की मौत मंगलवार को दोपहर को हार्ट अटैक आने के बाद हो गयी थी. चेम्बूर इलाके के इनलेक्स अस्पताल में भर्ती करने से पहले ही डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

राजीव का फ़िल्मी करियर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाया था. उन्होंने 1983 में फिल्म एक जान हैं हम से फ़िल्मी दुनिया में कदम रखा था. फिल्म फ्लॉप साबित हुई थी जिससे राजीव काफी दुखी हो गए थे. इसके बाद उनके पिता राज कपूर ने उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में री-लॉन्च करते हुए ‘राम तेरी गंगा मैली’ बनाई थी जो कि 1985 में रिलीज हुई थी.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.