uttrakhand

उत्तराखंड में चमोली जिले में ग्लेशियर फटने की घटना पर अमेरिका और फ्रांस ने दुख जताया है. इस घटना के बाद अब तक सात लोगों के शव बरामद हुए हैं. तपोवन के एक टनल में तीस लोगों के फंसे होने की आशंका है. आईटीबीपी रात भर रेस्क्यू ऑपरेश चलाएगी. अभी तक टनल से 25 लोगों को बाहर निकाला जा चुका है.

अमेरिका ने कहा कि भारत में ग्लेशियर के फटने और भूस्खलन से प्रभावित लोगों के प्रति हमारी गहरी संवेदना है. हम मृतक के परिवार और दोस्तों के शोक में शामिल हैं. घायलों को तुरंत ठीक होने को लेकर आशावान हैं.

वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने भी संवेदना जताई. उन्होंने कहा, “उत्तराखंड प्रांत में ग्लेशियर फटने की घटना में 100 से अधिक लोग लापता हो गए, फ्रांस भारत के साथ पूरी एकजुटता व्यक्त करता है. हमारी संवेदनाएं उनके और उनके परिवारों के साथ है.”

वहीं तुर्की ने भी दुख जताते हुए त्रासदी के बाद मदद की पेशकश की है. उसने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि कम से कम नुकसान हो और जो लोग लापता हैं वो सुरक्षित मिल जाएं. 

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.