bridge

जोशीमठ से करीब 25 किलोमीटर दूर पैंग गांव के ऊपर बहुत बड़ा ग्लैशियर फटा. जिसके चलते धौली नदी में बाढ़ आ गई. इसके बाद हिमस्खलन हुआ और ग्लैशियर की बाढ़ के चलते ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट को बड़ा नुकसान हुआ.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, देवभूमि उत्तराखंड में उत्पन्न हुई प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी.

प्रधानमंत्री ने कहा, मैं उत्तराखंड की दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति पर लगातार निगरानी रख रहा हूं. भारत उत्तराखंड के साथ खड़ा है और राष्ट्र सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता है. वरिष्ठ अधिकारियों से लगातार बात कर रहा हूं और एनडीआरएफ की तैनाती, बचाव और राहत कार्यों पर अपडेट ले रहा हूं.

अचानक बांध टूटने की वजह से प्रोजेक्ट में काम कर रहे 150 लोगों के लापता होने की खबर है. अब तक दो शव बरामद किए गए हैं. जोशीमठ और तपोवन के इलाके में घरों को खाली कराया जा रहा है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.