भारतीय क्रिकेट टीम ने मंगलवार को ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज 2-1 से अपने नाम करते हुए बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी अपने नाम कर ली. भारत ने पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 2018-19 में यह ट्रॉफी ऑस्ट्रेलिया में ही जीती थी.

गाबा में 32 साल बाद ऑस्ट्रेलिया की हार

ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम को 32 साल के बाद कोई हार मिली है. भारत को जीतने के लिए 328 रनों का मुश्किल लक्ष्य मिला था जो उसने मैच के आखिरी दिन मंगलवार को सात विकेट खोकर आखिरी सत्र में हासिल कर लिया.

पंत और गिल ने खेली कमाल की पारी

भारत की इस ऐतिहासिक जीत के हीरो रहे विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत और सलामी बल्लेबाज़ शुभमन गिल. पंत ने 138 गेंदो में 89 रन बनाकर नाबाद रहे. इस दौरान उन्होंने नौ चौके और एक छक्का लगाया. इसके साथ ही वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 1,000 रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर भी बन गए. वहीं शुभमन गिल ने 146 गेंदो में 91 रनों की शानदार पारी खेली. अपनी इस पारी में उन्होंने आठ चौके और दो छक्के लगाए.

प्रधानमंत्री मोदी ने भारत की इस महत्वपूर्ण जीत पर खुशी व्यक्त की, प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया की- “‘हम सभी ऑस्ट्रेलिया में भारतीय क्रिकेट टीम की सफलता पर बहुत खुश हैं. उनकी ऊर्जा और जुनून पूरे खेल के दौरान दिखाई दे रहा था. उमका दृढ़ इरादा, उल्लेखनीय धैर्य और दृढ़ संकल्प भी नजर आए. टीम को बधाई! आपके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं.”

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.