Corona vaccine

देश में कोरोना वायरस की वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी दी गई है. दोनों ही वैक्सीन को भारत में तैयार किया गया है, वहीं ये दोनों वैक्सीन दुनिया में बनी अन्य कोरोना वैक्सीन की तुलना में काफी सस्ती है.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से कोविशील्ड की 1.1 करोड़ खुराक के अलावा भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी जा रही है. उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी जा रही है. कोवैक्सीन की 38.5 लाख खुराक में से प्रत्येक पर 295 रुपये (टैक्स लगाकर) की लागत आएगी. वहीं भारत बायोटेक 16.5 लाख खुराक फ्री मुहैया करा रही है, जिससे इसकी लागत प्रत्येक खुराक पर 206 रुपये आएगी. वहीं भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 200 रुपये प्रति डोज खरीदी है. इस वैक्सीन की 200 रुपये कीमत में टैक्स शामिल नहीं है. कोवीशील्ड की कीमत भारत में 210 रुपये (टैक्स लगाकर) है.

The price of Corona vaccine in the country is less than Rs 300

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है. वहीं कई देशों में कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण शुरू भी हो चुका है. इस बीच दुनिया में मौजूद कोरोना वैक्सीन की कीमतों की तुलना की जाए तो भारत में कोरोना की वैक्सीन काफी सस्ती दरों पर उपलब्ध हो रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने दुनिया में उपलब्ध टीकों की कीमतों के बारे में कहा कि फाइजर-बायोएनटेक के टीके की लागत प्रति खुराक 1431 रुपये आती है. वहीं मॉडर्ना के टीके की खुराक की कीमत 2348 रुपये से लेकर 2715 रुपये तक, नोवावैक्स के टीके की कीमत 1114 रुपये, स्पूतनिक-वी के टीके का दाम 734 रुपये और जॉनसन एंड जॉनसन के जरिए निर्मित टीके की कीमत 734 रुपये है. इसके अलावा चीन की साइनोफोर्म वैक्सीन की कीमत 77 यूएस डॉलर प्रति डोज है यानी 5650 रुपये से अधिक की कीमत पर डोज उपलब्ध है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.