GOVERNMENT OFFICE

गुजरात सरकार ने सरकारी पेंशनभोगियों-कर्मचारियों के लिए एक अहम ऐलान किया है. राज्य सरकार के 9 लाख 61 हजार से अधिक अधिकारी/कर्मचारी एवं पेंशनभोगियों का अक्टूबर 2019 से दिसम्बर 2019 तक तीन माह के महंगाई भत्ते के एरियर्स का भुगतान होगा . अगस्त के वेतन के साथ भुगतान करने का निर्णय लिया है.

1 जुलाई 2019 से 5 फीसदी महंगाई भत्ता देने का फैसला

इस संबंध में उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य सरकार के 9 लाख 61 हजार से अधिक अधिकारियों/कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को 1 जुलाई 2019 से 5 फीसदी महंगाई भत्ता देने का फैसला किया है. यह महंगाई भत्ता जनवरी 2020 से हर महीने वेतन के साथ दिया जा रहा है.

1 जुलाई 2019 से 31 दिसंबर 2019 तक राज्य के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को कुल 6 महीने के महंगाई भत्ते के अंतर का भुगतान करने का निर्णय लिया गया. इसमें से जुलाई 2019 से सितंबर 2019 तक की राशि का भुगतान किया गया और अक्टूबर 2019 से दिसंबर 2019 तक के महंगाई भत्ते के शेष तीन महीने के बकाया का भुगतान किया गया. अगस्त वेतन के साथ बकाया भुगतान करने का निर्णय लिया है.

राज्य सरकार पर 464 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से सलाह मशविरा कर अधिकारियों/कर्मचारियों/पेंशनभोगियों को बकाया महंगाई भत्ते के अंतर का भुगतान राज्य सरकार द्वारा करने का निर्णय लिया गया है. अक्टूबर 2019 से दिसंबर 2019 तक के तीन माह के महंगाई भत्ते के इन बकाया का भुगतान सातवें वेतन आयोग से लाभान्वित राज्य सरकार एवं पंचायत के अधिकारियों/कर्मचारियों/पेंशनभोगियों को अगस्त माह के वेतन के साथ किया जायेगा.

इन भुगतानों से राज्य सरकार पर लगभग 464 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. इससे राज्य सरकार के कुल 5,11,129 कर्मचारी और 4,50,509 पेंशनभोगी लाभान्वित होंगे.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.