Farmer Protest

नई दिल्ली: केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने आज तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को पागल करार दिया, भारतीय किसान संघ के नेता राकेश टिकेट ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में मवाली के बयान को अनुचित बताया. राकेश टिकेट ने कहा कि किसानों के लिए इस तरह की टिप्पणी करना अनुचित है, हम किसान हैं पागल नहीं. उन्होंने आगे कहा कि किसान कमाने वाला है.

इससे पहले एक मीडियाकर्मी पर कथित हमले पर विदेश राज्य मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा, ”वे किसान नहीं हैं, पागल हैं…ये आपराधिक गतिविधियां हैं.” 26 जनवरी को जो हुआ वह शर्मनाक था, यह आपराधिक गतिविधि थी. इसने इस बात को विपक्ष से हवा दी है.

पेगासस जासूसी को लेकर संसद में हंगामे पर बीजेपी की ओर से पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहीं मीनाक्षी लेखी ने एक सवाल के जवाब में कहा, ”सबसे पहले उसे किसान कहना बंद करो, क्योंकि वह किसान नहीं है. . किसानों के पास समय नहीं है, जंतर-मंतर पर आकर बैठ जाइए, वे अपने खेतों में काम कर रहे हैं. ये वे लोग हैं जिन्हें आतंकवादियों ने निशाना बनाया है, जो नहीं चाहते कि किसानों को फायदा हो.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.