DIPIL KUMAR

दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार का आज सुबह 7.30 बजे निधन हो गया और फिल्म इंडस्ट्री को आंसुओं में डुबोकर इस लेजेंड्री आर्टिस्ट ने सबको अलविदा कह दिया. उनके शानदार फिल्मी सफर को देखें तो पता चलता है कि क्यों उन्हें अभिनय की दुनिया का लेजेंड माना जाता था. यहां उनके पूरे फिल्मी सफर का ताना-बाना आप जान सकते हैं.

दिलीप कुमार का जन्म पेशावर में 11 दिसंबर 1922 को हुआ. उनके पिता का नाम लाला गुलाम सरावर खान और मां का नाम आयशा बेगम था. उनके कुल 12 भाई-बहन हैं. उनके पिता फल बेचने थे. युसूफ खान ने देवलाली में स्कूलिंग की. वो राज कपूर के साथ बड़े हुए जो उनके पड़ोसी भी थे. बाद में दोनों ने फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई.

सिनेमा और राजनीति से जुड़े तमाम लोग उनके निधन पर शोक जता रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दिलीप कुमार के निधन पर शोक जाहिर किया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनका जाना हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए एक क्षति है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने दिलीप कुमार की पत्नी शायरा बानो से फोन पर बात की है. प्रधानमंत्री ने इस गंभीर दुख की घड़ी में परिवार को ढांढस बंधाया है. प्रधानमंत्री ने करीब दस मिनट तक शायरा बानो से बात की.

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ”दिलीप कुमार जी को एक सिनेमाई किंवदंती के रूप में याद किया जाएगा. उन्हें अद्वितीय प्रतिभा का आशीर्वाद प्राप्त था, जिसके कारण पीढ़ियों के दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए थे. उनका जाना हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए एक क्षति है. उनके परिवार, दोस्तों और असंख्य प्रशंसकों के प्रति संवेदना. श्रद्धांजलि.”

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.