corona

Zydus Cadila ने अपने कोरोना वैक्सीन ZyCoV-D के आपातकालीन उपयोग के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से मंजूरी मांगी है, जायडस कैडिला के प्रबंध निदेशक शेरविल पटेल ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि जायडस कोरोना वैक्सीन मंजूरी के 45-60 दिनों के भीतर उपलब्ध हो जाएगी, कंपनी की योजना दिसंबर 2020 तक अनुमानित 50 मिलियन खुराक बनाने की है.

वैक्सीन के लिए दूसरा प्लांट अगस्त तक चालू हो जाएगा

शेरविले पटेल ने कहा, “एक संयंत्र कोरोना वैक्सीन ZyCoV-D के लिए तैयार है और दूसरा विकसित किया जा रहा है” जुलाई या अगस्त के अंत तक प्लांट बनकर तैयार हो जाएगा। हम शुरुआती दौर में रोजाना 4 लाख डोज बनाने की तैयारी कर रहे हैं. कंपनी अब तक करीब 400-500 करोड़ का निवेश किया है.

12-18 साल की उम्र के 1000 बच्चों पर इस टीके का परीक्षण किया गया

जायडस का दावा है कि उनकी वैक्सीन बच्चों पर भी असरदार साबित हुई है.कंपनी ने कहा कि ZyCoV-D का नैदानिक ​​परीक्षण के दौरान 12-18 आयु वर्ग के लगभग 1,000 बच्चों पर भी परीक्षण किया गया था. इस संबंध में सारी जानकारी डीसीजीआई को सौंप दी गई है.

अभी तक वैक्सीन की 3 खुराक देने की बात होती रही है लेकिन आज कंपनी ने कहा कि 3 मिलीग्राम के साथ 2 खुराक लेना उतना ही कारगर साबित हुआ है. कंपनी ने ज़िकोवी-डी वैक्सीन के लिए दो-खुराक विधि का भी मूल्यांकन किया है, जिसमें इम्युनोजेनेसिटी परिणाम वर्तमान तीन-खुराक रेजिमेंट के बराबर है.

भारत को देंगे प्राथमिकता

पटेल ने कहा, “वैक्सीन के बारे में अन्य देशों से भी पूछताछ की जा रही है” हालांकि मौजूदा हालात में हम भारत पर फोकस कर रहे हैं. हम सबसे पहले भारत की मांग को प्राथमिकता देंगे, हम सरकार के संपर्क में हैं लेकिन अभी यह तय नहीं किया है कि कुल उत्पादन का कितना हिस्सा सरकार को दिया जाएगा और कितना खुले बाजार में बेचा जाएगा.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.