surat

सूरत: भाजपा विधायक वी.डी. झालावाड़िया में कोविड सेंटर में एक कोरोना मरीज को बोतल में इंजेक्शन लगाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. सिर्फ चार बुक पास कामराज विधायक वीडी झालावाड़िया कोविड केयर सेंटर पहुंचे और आईवीलाइन का इंजेक्शन लगाया. उनके पास न तो नर्सिंग का अनुभव है और न ही मेडिकल की डिग्री, सवाल यह है कि नेताजी इंजेक्शन कैसे दे सकते हैं.

हालांकि, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि केवल एक प्रशिक्षित व्यक्ति ही इंजेक्शन लगा सकता है, जबकि विधायक वीडी जलावाडिया ने कहा कि उन्होंने केवल सेवा की है.अगर यह गलत है तो क्षमाप्रार्थी हूँ.

सूरत कामरेज विधायक वी.डी. झालावाड़िया द्वारा एक कोरोना मरीज को रेमडीविर का इंजेक्शन लगाने का वीडियो वायरल हो गया है.सूरत के सरथाना इलाके के कोविड केयर सेंटर में मरीज को एक बोतल में रेमडीविविर का इंजेक्शन दिया गया. जिसका वीडियो वायरल हो गया है. वीडियो से चर्चा चल रही है कि कोरो का मरीज बीजेपी नेता के लिए मजाक जैसा है और वीडी झालावाड़िया में विधायक के तौर पर जो गंभीरता होनी चाहिए, वह उन्हें नहीं दिखती.

इसोलेश सेंटर की शुरुआत भाजपा नेताओं ने सरथाना क्षेत्र में की थी। जिसमें विधायक वी.डी. वीडियो में झालावाड़िया खुद मरीज को रेमेडिविर का इंजेक्शन लगाते नजर आ रहे हैं. एक विधायक के तौर पर उनमें जो गंभीरता होनी चाहिए, वह उनमें नहीं दिखती. ऐसा लगता है कि जब वह खुद मरीज को इंजेक्शन दे रहे थे, तब सभी मेडिकल स्टाफ मौजूद होने के बावजूद उन्होंने मनमाने ढंग से काम किया.

जैसा कि वीडियो में देखा जा सकता है, विधायक वी.डी. झालावाड़िया इंजेक्शन सेलाइन में डालते है. उनके आसपास उनके समर्थक जिस तरह से मुस्कुरा रहे हैं, उसे देखकर ऐसा लग रहा है कि यह सब प्रक्रिया उनके लिए मजाक है. एक मरीज को रेमडीविर जैसा इंजेक्शन देना कितना खतरनाक है मानो विधायक बनकर हंस रहा हो.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.