18 साल से कम की उम्र के 500 बच्चे संक्रमित

कोरोना की दूसरी लहर राजस्थान में कहर बरसा रही है, बांसवाड़ा-डूंगरपुर से सटे रतलाम में पिछले 10 दिन में 500 से अधिक ऐसे संक्रमित मिले हैं, जिनकी उम्र 18 साल से कम हैं, दूसरी लहर में बच्चों की संख्या कम ही रही थी लेकिन अब हर रोज इनकी संख्या बढऩे से तीसरी लहर के शुरू होने की शंका सताने लगी है.

आ गई नई चिंता

चिंता की बात तो यें है की न तो बच्चों वाली दवाएं हैं और न ही वेंटीलेटर व अन्य संसाधन.विशेषज्ञों की मानें तीसरी लहर में खतरा सीधा बच्चों पर हैं. तीसरी लहर में बच्चे संक्रमण का शिकार बन सकते हैं, सबसे ज्यादा डरावनी बात तो यह है कि बांसवाड़ा, डूंगरपुर के पास मध्यप्रदेश की सीमा के जिले रतलाम में बच्चों में संक्रमण फैलने की यानी तीसरी लहर की पुष्टि हो चुकी है.

500 children under 18 years of age infected in Dungarpur in the last 10 days

तीसरी लहर में 6 से 12 साल के बच्चों को ज्यादा खतरा बताया है और इसी बीच तीसरी लहर की बात ने सबको डरा दिया है। लेकिन बात डरने की नहीं हैं, अलर्ट रहने की है, खुद को तैयार करने की है, क्योंकि दूसरी लहर पर जैसी बेफिक्री थी, वो बेफिक्री हम तीसरी लहर में नहीं दिखा सकते हैं

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.