चक्रवात को लेकर हर लेटेस्ट अपडेट के लिए न्यूजर का यह पेज करते रहीए रिफ्रेश …

  • तूफान गुजरात के तट से टकरा गया है. राज्य के 78 तालुकों में सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक बारिश हुई है. वलसाड के उमरगाम में दो घंटे में सबसे ज्यादा 6 इंच बारिश हुई.
  • सोमनाथ में तूफान का भारी असर देखने को मिल रहा है. यहां 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है. भारी बारिश शुरू हो गई है. पूरे शहरी क्षेत्र में बत्ती गुल हो गई है.
  • राजकोट, जसदान और आसपास के इलाकों में भी भारी बारिश हुई है और पूरे पंथ में बिजली आपूर्ति ठप हो गई है.

राजकोट

राजकोट में देर रात 75 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं, जिससे कई जगह पेड़ गिर गए हैं. इतना ही नहीं आधी रात को तेज हवाओं के साथ बारिश होने लगी. जिलाधिकारी रेम्या मोहन ने लोगों से अकारण बाहर न निकलने की अपील की. तटीय इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. कई विस्तारों में बिजली भी गूल है.

राजुला प्रात कार्यालय का शीशा टूटा

अमरेली जिले में मौजूदा तूफान की स्थिति से राजुला प्रात कार्यालय का शीशा टूट गया है. राजुला-जाफराबाद में स्थिति विकट है.तेज हवाओं के साथ तेज बारिश हो रही है; प्रांत के अधिकारी का कहना है कि स्थिति बहुत गंभीर है, फिलहाल कार्यालय के गेट बंद हैं और कोई रास्ता नहीं है.

उना

चक्रवात उना के पास गुजरात के तट से टकराया, जिससे तेज हवाओं के कारण कई बिजली के खंभे और पेड़ गिर गए. राजमार्गों और ग्रामीण क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पेड़ गिरने के कारण सड़कें बंद हो गईं, जबकि बिजली के खंभे गिरने से सूबा भर में ब्लैकआउट फैल गया.

द्वारका

द्वारकाधीशजी मंदिर की वर्तमान स्थिति को देखते हुए झंडा आधा झुका कर फहराया गया.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.