gujarat

ताऊ-ते नाम का तूफान तेजी से गुजरात के तट की ओर बढ़ रहा है, सुबह 7.30 बजे मौसम विभाग ने बताया कि तूफान गुजरात की ओर बढ़ रहा है. वर्तमान में ताऊ-ते गुजरात के वेरावल से 700 किमी दूर है. तूफान के संभावित प्रभाव के लिए तंत्र और बचाव दल को सतर्क कर दिया गया है,यदि कोई तूफान गुजरात के तट से टकराता है, तो यह तटीय क्षेत्र को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है.

सिस्टम ने जरूरत पड़ने पर तटीय क्षेत्रों और निचले इलाकों से लोगों के स्थानांतरण की भी योजना बनाई है. समुद्र में अभी भी 40 से अधिक नावें हैं जो शाम तक वापस आ जाएगी.

चक्रवाती तूफान तौकते को देखते हुए राज्य में NDRF की टीमें तैनात की गई हैं. NDRF गांधीनगर के डिप्टी कमांडेंट रणविजय कुमार सिंह ने बताया, “24 टीमें आज शाम तक अपनी जगह ले लेंगी जिसमें 13 टीमें बाहर से मंगाई गई हैं”

अमरेली जिले में मछुआरों को समुद्र छोड़ने का निर्देश

ताऊ-ते तूफान को लेकर प्रशासन के साथ-साथ अमरेली जिले के तट से लगे पिपावाव तटरक्षक को भी अलर्ट कर दिया गया है. पीपावाव लोगों को सतर्क करते हुए तटरक्षक नौकाओं के जरिए तटीय इलाके में लगातार गश्त कर रहे हैं. नावों और मछुआरों को तत्काल समुद्र छोड़ने का आदेश दिया जा रहा है.

प्रदेश के कई जिलों के गांवों में अलर्ट

तूफान के बाद कच्छ में 123, वलसाड में 84, सूरत में 39, भरूच में 30 और चरोतार में 15 गांवों को अलर्ट कर दिया गया है. सौराष्ट्र के तटीय जिलों में, प्रशासन तटीय क्षेत्रों के गांवों से लोगों को स्थानांतरित करने के लिए अच्छी तरह से सुसज्जित है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.