corona virus

भारत में कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा घातक साबित हो रही है, लेकिन भारत में तबाही मचा रहा कोविड का ये नया वेरिएंट अब पूरी दुनिया के लिए परेशानी की वजह बन सकता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि- कोरोना का भारतीय वेरिएंट बेहद संक्रामक है, औऱ पूरी दुनिया के लिए चिंता का विषय है.

नए वेरियंट को B.1.617 नाम

हमारे देश में पाए जा नए वेरियंट को B.1.617 के नाम से जाना जा रहा है. यूनाइट नेशन्स की स्वास्थ्य एजेंसी का कहना है कि कोविड का ये नया वेरिएंट भारत में पिछले साल अक्टूबर महिने में पहली बार देखा गया था. वायरस का नया वेरिएंट ओरिजनल की तुलना में कहीं ज्यादा आसानी से प्रसारित होता है. ये भी आशंका है कि संभवत: नए वेरिएंट ने वैक्सीन से बचाव के लिए भी कुछ प्रतिरोध विकसित कर लिया है. ऐसे में WHO ने इसे वैश्विक स्तर पर चिंता के विषय के रूप में वर्गीकृत किया है.

दूसरे वेरिएंट को लेकर भारत की हालत खराब

इससे पहले कोरोना के तीन वेरियंट का पता चल चुका है, जिन्हें यूके, ब्राजीलियन और साउथ अफ्रीकन वेरियंट के रूप में पहचाना जाता है. ये वेरिएंट कोरोना के मूल वायरस से अधिक खतरनाक व संक्रामक माने जाते हैं. भारत इस वक्त कोरोना की दूसरी लहर से संघर्ष कर रहा है. रोजाना कोरोना के 4 लाख से ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं. हालांकि सोमवार को इस आंकड़ें में थोड़ी से गिरावट आई और नए मरीजों की संख्या 3 लाख 66 हजार से ज्यादा दर्ज की गई.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.