Karun incident in Dwarka

देवभूमि द्वारका में एक परिवार के वरिष्ठ सदस्य का कोरोना का इलाज करते वक्त निधन हो गया.जिसके शौक में मृतक के परिवार के तीन अन्य सदस्यों ने आज आत्महत्या कर ली है. प्रारंभिक पुलिस जांच में पता चला है कि वरिष्ठ सदस्य की मौत के सदमे के बाद परिवार के तीन सदस्यों ने आत्महत्या कर ली.

जयेशभाई जैन, जो द्वारका टीवी स्टेशन के पास रिक्शमनगर में किराए के मकान में रहते थे, फरसान के कारोबार में शामिल थे. दो-तीन दिन पहले वह कोरोना संक्रमित हुए थे.और उनका इलाज चल रहा था. जयेशभाई का कल देर रात निधन होने पर परिवार तबाह हो गया. जयेशभाई की पत्नी और दो बेटों कों गहरा सदमा लगा.

दूधवाले के पहुंचने पर सामूहिक आत्महत्या की जान हुई

दूधवाला घर पहुंचा तो बहार कोई नहीं आया, एसे में उसने देखा की घर के सभी लोगों ने आत्महत्या कर ली थी. जिसकी सूचना बाद में पुलिस को दी गई. बी गढ़वी और द्वारका ममलतादार ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की.

जहरीली दवा खाकर की आत्महत्या

जयेशभाई की पत्नी साधनाबेन, बड़े बेटे कमलेश और सबसे छोटे बेटे दुर्गेश घर में मृत पाए गए. तीनों के शव के पास एक गिलास कीटाणुनाशक पाया गया. प्रारंभिक जांच से पता चला है कि सभी लोगों ने कीटनाशक निगल लिया था.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.