dulhan

कोरोना के बढ़ते मामले और प्रतिबंधों के कारण शादियां स्थगित कि जा रही है. सूरत जिले में अब तक दो महीनों में 5500 शादियां रद्द हो चुकी हैं. इससे इवेन्ट मेनेजमेन्ट एजेंसियों को 250 करोड़ रु. का नुकसान हुआ है. अगर नवंबर तक हालात ऐसे ही रहे तो नुकसान का अनुमान 500 करोड़ रुपये है.

अगर हम दक्षिण गुजरात की बात करें तो 5500 हजार शादियां रद्द हो चुकी हैं. इससे 250 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है, लगभग 30,000 लोग बेरोजगार हो गए हैं. एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी के कार्यकारी ने कहा कि अप्रैल, मई और जून 2020 में होने वाली शादियों को नवंबर, दिसंबर और 2021 तक स्थगित कर दिया गया था. इस वर्ष अप्रैल, मई और जून में अधिकांश कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए.

कोरोना के कारण लोगों ने जून तक शादी को स्थगित कर दिया है. इवेन्ट मेनेजमेन्ट उद्योग में शामिल 30,000 लोग अपनी नौकरी खो चुके हैं. इसमें इवेंट मैनेजर, खानपान, शादी से जुड़ी अन्य सेवाओं से जुड़े लोग शामिल हैं. इवेंट इंडस्ट्री को पिछले साल 260 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. कई प्रदर्शनियां जून से शुरू होती हैं, अगर सभी को कोरोना के कारण स्थगित या रद्द कर दिया जाता है, तो नवंबर तक 500 करोड़ रुपये का नुकसान होने की उम्मीद है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.