haridwar

प्रधानमंत्री मोदी की अपील का असर हरिद्वार महाकुंभ पर दिखने लगा है. रामनवमी के त्यौहार पर यहां स्नान किया जाता है. लेकिन हरकी पौड़ी, ब्रह्मकुंड समेत अन्य घाट पर सन्नाटा छाया हुआ है, गिनेचुने लोंगो ने ही घाट पर स्नान किया.

जो गिनेचुने लोगों ने स्नान किया उनका कहना है कि घाट पर भीड नहीं होने से वह खुश है, कम भीड के लिए स्थानिक प्रशासन औऱ पोलीस प्रशासन की तारीफ कर रहे है. यहां आने से पहले उन लोगों को डर था कि ज्यादा लोग स्नान करने आए होगे.

हरिद्वार के एएसपी मनोज कत्याल का कहना है कि यहां पर आने वाले लोगों को कोविड के सारे प्रोटोकोल फोलो करने के लिए अनुरोध किया जा रहा है, जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे है उनके विरुद्ध कार्रवाई हो रही है.

कोरोना के बढते मामलों को लेकर हरिद्वार में महाकुंभ से मुख्य अखाडों के संतो ने वाप, जाना शरु कर दिया है. जिनके बाद यहां पर भीड में भारी कमी आई है. 30 अप्रैल को महाकुंभ पूर्ण होने वाला है. इससे पहले साधु संतो यहा से जाने लगे है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इससे पहले साधुओं से कुंभ के शेष हिस्से को सांकेतिक रखने की अपील की थी.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.