India America

कोरोना वैक्सीन के लिए जरूरी कच्चे माल की अपूर्ति पर रोक हटाने के सवाल पर अमेरिका ने जवाब दिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति जॉ बाइडेन सरकार की और से कहा गया है कि- अमेरिका भारत की जरुरतों को समजता है. पर फिलहाल अमेरिका के हाथ बंधे हुए है.

प्रेस सेक्रेटरी ने सीधा जवाब न देते हुए बस इतना ही कहा कि फिलहाल हमारे पास भारत के लिए कुछ नहीं है. कोविड-19 रिस्पांस टीम के वरिष्ठ सलाहकार और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शस डिसीज के डायरेक्टर डॉ एंथनी फौसी ने यह निवेदन दिया.

भारत में कोविडशील्ड वैक्सीन बनाने वाले सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला की रजूआत के बारे में जो बाइडन प्रशासन से पूछा गया था. अदार पूनावाला ने अमेरिका से कच्चे माल के निर्यात के नियमों में छूटछाट देने की अपील की थी, ताकि भारत की कच्चे माल की जरूरतों को पूरा किया जा सके. लेकिन अमेरिका ने अपने हाथ खडे कर दिए है.

पूनावाला इससे पहले कई मौकों पर कह चुके हैं कि वैक्सीन बनाने के लिए उनके पास पर्याप्त कच्चा माल नहीं है. उनका कहा है कि अमेरिका ने डिफेंस ऐक्ट को लागू किया है जिससे कच्चे माल के निर्यात पर रोक लग गई है. इससे वैक्सीन बनाने वाली कई कंपनियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.