अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने इतिहास रचा है, आज यानि की 19 अप्रैल 2021 को दोपहर 4 बजे के करीब किसी दूसरे ग्रह पर पहली बार हेलिकॉप्टर उडाया. इस हेलिकॉप्टर का नाम इंजीन्यूटी हेलिकॉप्टर है.

यह तस्वीरें जो आप देख रहे है वह इंजीन्यूटी हेलिकॉप्टर के ऑनबोर्ड कैमरे से खींची गई है. तस्वीर में नीचे मंगल की सतह और हेलिकॉप्टर की परछाई दिख रही है. (फोटोःNASA/Ingenuity)

11 अप्रैल को यह हेलिकॉप्टर पहली उड़ान भरनेवाला था.बाद में उसे टालकर 14 अप्रैल 2021 तय की गई लेकिन नासा ने कहा कि हेलिकॉप्टर का टाइमर सही से काम नहीं कर रहा था. इसलिए उडान को टाल दिया गया. इंजीन्यूटी हेलिकॉप्टर पूरी तरह से सुरक्षित और धरती से संपर्क में है. हेलिकॉप्टर का वोचडोग टाइमर को सही करके फिर उसे 19 को अप्रेल को उडाने का फैसला लिया गया.

इंजीन्यूटी हेलिकॉप्टर के अंदर सौर ऊर्जा से चार्ज होने वाली बैटरी लगी है. इसके पंखों के ऊपर सोलर पैनल लगा है. जो जितना गर्म होगा उतना बैटरी को ताकत मिलेगी. साथ ही हेलिकॉप्टर के अंदर एक गर्मी बनी रहेगी ताकि वह मंगल ग्रह के बदलते तापमान को बर्दाश्त कर सके. मंगल पर दिन में इस समय 7.22 डिग्री सेल्सियस तापमान है. जो रात में घटकर माइनस 90 डिग्री सेल्सियस तक जाता है.

हेलिकॉप्टर को बनाने में NASA ने 85 मिलियन डॉलर्स यानी 623 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च किए हैं. इसके पंखे हर मिनट 2537 राउंड लगाते हैं.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.