Makar Sankranti

मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने के धार्मिक कारणों के साथ ही वैज्ञानिक पक्ष भी हैं. जानिए मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने की वजह और उससे होने वाले फायदों के बारे में.

Makar Sankranti
Makar Sankranti

सूर्य की किरणें है शरीर के लीए लाभदायी मकर संक्रांति के दिन सूर्य का उत्तरायण होता है. इस दिन सूर्य की किरणें औषधि का काम करती हैं. सर्दियों की वजह से शरीर में कफ और त्वचा में रूखेपन की समस्या आ जाती है. ऐसे में इस दिन पतंग उड़ाने से इन समस्याओं से निजात मिलती है.

शारीरिक समस्याओं से होता है बचाव
इस दिन सूर्य का उत्तरायण होने की वजह से सूर्य की किरणों में अत्यधिक मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है. इस दिन पतंग उड़ाने से सूर्य की किरणें सीधे व्यक्ति के शरीर पर पड़ती हैं, जिससे कई शारीरिक समस्याओं से बचाव होता है.

पतंग उड़ाने से शरीर में बनते हैं गुड हॉर्मोंस
वैज्ञानिक तथ्यों के अनुसार, पतंग उड़ाने से दिमाग हमेशा एक्टिव रहता है. इसके अलावा, हाथ और गर्दन की मांसपेशियों में लचीलापन बना रहता है. पतंग उड़ाने से शरीर में गुड हॉर्मोंस बनते हैं, जिनकी वजह से मन प्रसन्न रहता है. साथ ही पतंग उड़ाने से आंखों की भी एक्सरसाइज होती है.
पतंग उडाने का है पौरणिक महत्व

पुराणों के अनुसार, मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने की शुरुआत प्रभु श्रीराम ने की थी. पुराणों के अनुसार, प्रभु श्रीराम की पतंग स्वर्गलोक में भगवान इंद्र के पास जा पहुंची थी. तभी से इस परंपरा को आज तक निभाया जाता है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.