Corona did the bad condition of US economy

कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया की आर्थिक, सामाजिक, स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को चरमरा दिया है. कई देशों की तो इतनी बुरी हालत है कि उनके यहां लोगों को खाने को भी नहीं मिल रहा है.

आर्थिक स्थिति साल 2008 की मंदी से भी बुरी है. सबसे ज्यादा बुरी हालत दुनिया के सबसे ताकतवर देश की है यानी अमेरिका की. अमेरिका में बड़े पैमाने पर रोजगार का नुकसान हुआ है. लोगों के पास पैसे नहीं, इसलिए वो ठीक से खाना भी नहीं खा पा रहे हैं. (फोटोःगेटी) भूख को लेकर काम करने वाली संस्था फीडिंग अमेरिका (Feeding America) ने हाल ही में एक खुलासा करके पूरी दुनिया को हैरत में डाल दिया है. फीडिंग अमेरिका की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल के अंत यानी दिसंबर के अंत तक अमेरिका में पांच करोड़ से ज्यादा लोगों को दो जून की रोटी नसीब नहीं हो रही है. यहां हर छठा शख्स भूखा रहने को मजबूर है.

Corona did the bad condition of US economy
(फोटोःगेटी)

सिर्फ बड़े ही नहीं, इस महामारी की सबसे बड़ी मार बच्चों पर भी पड़ी है. अमेरिका में हर चौथा बच्चा भूखा रह रहा है. साल 2019 के जून महीने से ही अमेरिका में रोजगार की दिक्कत आने लगी थी. कोरोना की वजह से लोगों की नौकरियां चली गईं. इसलिए लोगों को खाने की कमी होने लगी थी.

Corona did the bad condition of US economy
(फोटोःगेटी)

कोरोना महामारी की शुरुआत से अब तक अमेरिका में कोरोना से पहले की तुलना में दो गुना जरूरतमंद लोग बढ़े हैं. इन जरूरतमंद लोगों में बेरोजगार और भूखे लोग ज्यादा हैं. वहीं जिन जरूरतमंद परिवारों में बच्चे हैं, उनकी संख्या तीन गुना बढ़ गई है.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.