corona strain

भारतीय वैज्ञानिकों ने भारत में यूके से आए वायरस के नए स्ट्रेन की पहचान कर इसे आइसोलेट कर लिया है. सबसे खास बात ये कि नए स्ट्रेन को आइसोलेट करने वाला भारत पहला देश बन चुका है.

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर दुनियाभर में खौफ का माहौल है. पुराना वायरस तो कहर ढा ही रहा है इस नए वायरस को 70 गुना ज्यादा तेजी से संक्रमित करने वाला बताया गया है. वहीं भारत में भी एक के बाद एक नए स्ट्रेन वाले केस मिलने से दहशत है. लेकिन इस पूरे माहौल के बीच कोरोना के यूके स्ट्रेन के खिलाफ भारतीय वैज्ञानिकों को अहम कामयाबी मिली है. भारतीय वैज्ञानिकों ने अपने यहां यूके से आए वायरस के नए स्ट्रेन की पहचान कर इसे आइसोलेट कर लिया है. सबसे खास बात ये कि नए स्ट्रेन को आइसोलेट करने वाला भारत पहला देश बन चुका है.

ICMR ने दी जानकारी
इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानि आईसीएमआर ने इस कामयाबी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि भारत ने तेजी से वायरल हो रहे नए यूके म्यूटेंट स्ट्रेन को आइसोलेट और कल्चर कर लिया गया है. आइसोलेशन के जरिए नए म्यूटेंट स्ट्रेन पर वैक्सीन के असर की भी जांच की जा सकेगी. यानि देखा जा सकेगा कि कोविड वैक्सीन्स इस स्ट्रेन पर असरदार हैं कि नहीं ?.

By Newzzar

Leave a Reply

Your email address will not be published.